अगर चाहते हो सुन्दर शरीर और स्वस्थ्य तो रोज खाये आंवले

जीवन में कभी ना कभी आंवला तो ज़रूर खाया होगा. आंवला एक ऐसा फल है जिसके गुण अनेक है. आंवला में कई ऐसे गुणकारी तत्व मौजूद होते हैं जो की अनेकों प्रकार की बीमारीओं से लड़ने की ताक़त प्रदान करते हैं. आंवला शारीर के पाचन तंत्र को बढ़ाता है और साथ ही बुद्धि को भी तेज़ बनाता है. यही नहीं अगर आप आंवले का सेवन काफी समय से कर रहे हैं तो आपको बुढ़ापा भी जल्दी नहीं आएगा. आंवला गंभीर बीमारियों जैसे बवासीर, नकसीर और दिल से जुड़ी हुई बीमारियों के इलाज में भी बहुत फायदेमंद साबित होता है तो आइये जानते है आंवले के फायदे (benefits of gooseberry.)

क्या हैं आंवला के फ़ायदे:

यूं तो आंवला के अनेकों फायदें हैं, पर आज हम आपको आंवला के कुछ ख़ास फायदों के बारे में बताएंगे



  • आंवला खाने पर शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता बढती है. आपकी बॉडी का इम्यून सिस्टम स्ट्रांग होता है.
  • आँखों की रौशनी बढ़ाने के लिए आंवला बहुत लाभकारी होता है.
  • अगर आप अपना खून साफ करना चाहते हैं ओ आंवले का जूस ज़रूर पिए. खून साफ़ रहेगा तो बीमारियाँ भी कम होंगी.
  • आंवला विटामिन C से भरपूर होता है. या यूं कहें की सबसे ज़्यादा विटामिन C अगर किसी फल में है तो वो है- आंवला. एक आंवले में 3 संतरों के बराबर विटामिन C होता है.
  • आंवला हमारे लीवर को भी मजबूत बनाता है. इसका सेवन शारीर से विषैले पदार्थ को आसानी से बाहर निकाल देता है.
  • अगर आपके बाल उम्र से पहले सफ़ेद हो रहे हैं तो आंवला का सेवन बालों को काला करने में मदद करता है और त्वचा में रौनक लाता है.
  • अगर आपको कच्चा आंवला पसंद नहीं है तो आप आंवले का मुरब्बा भी बनाकर रख सकते हैं. यह खाने में बेहद स्वादिष्ट होता है और शारीर को तंदरुस्त बनाये रखता है.



किन-किन बामारियों में है फायदेमंद:

  • डायबिटीज के मरीजों के लिए आंवला चमत्कार से कम नहीं है. डायबिटीज के मरीज़ आंवले को अगर हल्दी के चूरन के साथ लेंगे तो उन्हें आराम महसूस होगा.
  • नाक से खून निकलने की समस्या पर आंवले को महीन पीसकर बकरी के दूध में मिला लें. अब इस मिश्रण को मस्तिष्क और सर पर लगायें. ऐसा करने से खून बहना बंद हो जाएगा,
  • बवासीर से परेशान लोगों को गाय के दूध में सूखे हुए आंवले को बारीक पीसकर पीने से आराम मिलता है.
  • तेज़ खांसी होने पर अगर आप गाय के दूध के साथ आंवले का मुरब्बा खायेंगे तो आपको खांसी से जल्द रहत मिल जायेगी.
  • पेशाब के दौरान जलन का एहसास होने पर आंवले के जूस में थोडा सा शहद डालकर पियें. इससे जलन कम होगी और पेशाब भी साफ़ आएगा.
  • अधिकतर लोगों में पत्थरी की समस्या आम बात है. आंवला का सेवन पत्थरी से ग्रस्त लोगों को भी आराम पहुंचाता है. आंवले के चूरन को मूली के साथ कुछ दिनों तक सेवन करने पर निश्चित आराम मिलेगा.

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published.